देश

एमबीबीएएस सीट नहीं मिले तो आत्महत्या तनावग्रस्त होना कोई समाधान नहीं है :डॉ.एन पी गाँधी 

 नीट में कम मार्क्स आपके मेडिकल क्षेत्र में भविष्य की दिशा तय नहीं करता

देश भर में हाल ही में आयोजित मेडिकल प्रवेश प्रवेश परीक्षा के लिए आयोजित की जाने वाली  नीट एक्जाम के परिणाम में कम मार्क्स प्राप्त करने वाले फ्रेशर और रिपीटर्स काफी लगातार परेशान है .लगातार करियर मार्गदर्शन बच्चो के सेल्फ मोटिवेशन हेतु पेरेंट्स से संवांद पर गाँधी ने बताया की उनके पास लगातार कुछ पेरेंट्स के काल आये वह परेशान है बच्चो को किस तरीके से समझाया जाये की एमबीबीएस सीट के आलावा भी मेडिकल क्षेत्र में अनेको सम्मानजनक करियर सम्भावनाये है .इस पर गाँधी ने सभी पेरेंट्स की एक सी समस्याएं सुनकर एक ही जवाब दिया और बताया सबसे पहले बच्चो को समझना होगा की इस विश्व व्यापी बढ़ते प्रतियोगी विश्व के सबसे सर्वाधिक युवा जनसंख़्या  वाले देश में बच्चो को भी समझना होगा की यथार्थ में सीट सिमित ही होगी और स्टूडेंट हर एक सीट के लिए बहुतायत में एक एक मार्क्स से सीट कई बार कालेज मिलने में रह जाती है .यह प्रश्न बच्चो के प्रोफेशनल जीवन का हो सकता है परन्तु उनके व्यक्तिगत जीवन ,तनाव से बड़ा  नहीं हो सकता ,जब मन मस्तिष्क काम नहीं करेगा ,जब मनुष्य जीवन को हम क्षति पहुचायेंगे तो अंत में स्टूडेंट के साथ पेरेंट्स रिश्तेदार और पुरे समाज को उसका खामियाजा भुगतना पड़ता है .आज समाज रिश्तेदार पेरेंट्स को भी समझना होगा की डॉक्टर  के आलावा सेकड़ो मेडिकल क्षेत्र में सम्मानजनक करियर सम्भवनाये है मेडिकल प्रोफेशन को आजकल सेवा से नहीं पैकेज से जोड़ा जा रहा है जिसके परिणाम आये दिनो हम देख सकते है .आज बच्चो को भी अपनी सामर्थ्यता असल सत्य को स्वीकारना होगा और समय रहते अपने कम मार्क्स पर बार बार रिपीटर्स बनकर खुद को तनाव में जाने से बचना होगा और विभिन्न करियर ऑप्शन जैसे बीडीएस ,बीएएमएस ,बीएचएमएस ,बीएससी नर्सिंग ,फार्मेसी ,बीएससी रेडिओग्राफी ,बेचलर मास्टर इंटीग्रेटेड मिक्रोबिओलॉजी ,बायोटेक्नोलॉजी ,बायो स्टेटिस्टिक्स ,बेचलर मास्टर इन फिजिक्स ,केमिस्ट्री ,जूलॉजी आदि कई सेकड़ो करियर है जो मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस सीट नहीं मिलने पर उच्चस्तरीय संस्थानों भारतीय विज्ञानं बेंगलुरु आईआईटी ,एनआईटी ,दिल्ली ,जै एन यु  यूनिवर्सिटी ,बॉम्बे ,पुणे ,सेंट्रल ,पंजाब एवं अनेको स्टेट वाइज सरकारी विश्वविधयालय, आईआईएचएमआर ,आईआईपीएस ,टाटा इंस्टिट्यूट ,एमिटी ,मणिपाल ,शारदा ,नोयडा इंटरनेशनल ,लवली प्रोफेशनल ,दून विश्वविद्यालय एवं कई उभरते हुए बेहतरीन शैक्षणिक संस्थानों से विज्ञानं के क्षेत्र में बेहतरीन करियर बनाये जा सकते है . केवल आवश्यकता है स्वयं के सामर्थ्य सही करियर मार्गदर्शन को जांनने की .     

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button